पटना (मनीष कुमार) : बिहार के वैशाली जिले में कुछ दिन पूर्व मुथुट फाईनेंस के लूटे गये इक्यावन किलो में चार किलो गहनों को पुलिस ने बरामद कर लिया है। साथ ही इस मामले में दो महिलाओं समेत चार लोगों को पकड़ा है। वैशाली पुलिस अधीक्षक जगुनाथ रेड्डी ने संवाददाताओं से बात करते हुए बताया कि पुलिस लूट के बाद से सोने को बरामद करने के लिए लगी हुई थी। सूचना पर जिले के वैशाली थाना क्षेत्र के जतकौली धर्मपुर के रामेश्वर सहनी के पुत्र धर्मेन्द्र सहनी को तमिलनाडु से गिरफ्तार किया। जिसके पास से एक किलो सोना बरामद किया गया। उसकी निशानदेही पर बिदुपुर थाना क्षेत्र के खपुरा गांव निवासी अवलाख राय के पुत्र धर्मेन्द्र गोप को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने धर्मेन्द्र की मां और पत्नी को लूटे गये सोना को छुपा कर रखने के आरोप में भी गिरफ्तार किया है। एसपी ने कहा कि लूट के बाद धर्मेन्द्र अपने ननिहाल में जाकर छिप गया था। जो जुड़ावनपुर थाना के पहाड़पुर गांव में है। जहां पुलिस ने छापेमारी की। वहां से धर्मेन्द्र के ममेरे भाई स्व राम प्रवेश राय के पुत्र अवधेश राय को एक अवैध देशी पिस्तौल और कारतूस के साथ गिरफ्तार किया गया है। श्री रेड्डी ने बताया कि इसके पूर्व मामले में लाइनर का काम करने वाले बिदुपुर थाना के रहिमापुर गांव निवासी गणेश झा के पुत्र निशांत झा उर्फ बाबा और नगर थाना क्षेत्र के अनवरपुर चौक निवासी आफताब आलम के पुत्र आशिफ उर्फ आशु को पुलिस ने घटना में प्रयुक्त एक बाइक के साथ गिरफ्तार किया था। जिन्हें पहले ही जेल भेजा जा चुका है। उन्होंने कहा कि गिरफ्तार होने के तत्काल बाद धर्मेन्द्र ने आत्महत्या का प्रयास किया लेकिन पुलिस कर्मियों ने अपनी तत्परता से बचा लिया। जहां उसे सदर अस्प्ताल हाजीपुर में भरती कराया गया है। एसपी ने कहा कि जल्द ही बचे हुए सोने को बरामद कर लिया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *