नकली सेनेटाइजर बनाने की फैक्टरी का खुलासा, एक गिरफ्तार

पटना (मनीष कुमार)। एक ओर पूरा विश्व कोरोना महामारी से बचने के लिए हर रोज नयी तकनीक की तलाश कर रहा है तो कुछ लोग उससे पैसा कमाने की जुगत लगा रहे हैं। बिहार के वैशाली जिले में पुलिस को एक बड़ी कामयाबी उस समय मिली जब गुप्त सूचना के आधार पर उसने नकली सैनेटाइजर बनाने की फैक्टरी को पकड़ा। फैक्टरी का मालिक पुलिस को देखते ही फरार होने में कामयाब रहा लेकिन एक धंधेबाज पकड़ा गया। बताया जाता है कि जिले के सदर थाना क्षेत्र में चल रहे इस फैक्टरी की जानकारी ब्राण्ड प्रोटेक्शन के अधिकारी अंजनी कुमार सिंह ने दी। जो कई दिनों से नकली सेनेटाइजर बाजार में बिकने से परेशान थे। इस फैक्टरी में डेटॉल, हिमालया, मेडी केयर, बोरोप्लस, बजाज, डाबर जैसी नामी कम्पनी समेत कई अन्य कम्पनियों का नकली सेनेटाइजर बनाया जा रहा था। पुलिस बताया कि यह फैक्टरी विजय साव के मकान में चल रहा था। कार्रवाई के दौरान पुलिस को 15 लाख का नकली सेनेटाइजर, बोतल, रैपर और अन्य सामान मिले हैं। पुलिस ने गिरफ्तार व्यक्ति की पहचान पटना के रोशन कुमार के रूप में की गयी है। जिसने पुलिस को बताया कि यहां बनने वाले सेनेटाइजर राज्य के कई जिलों समेत देश के अन्य हिस्सों में भी भेजे जाते थे। पुलिस के अनुसार मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है। जल्द ही पूरे मामले का खुलासा कर लिया जायेगा। फरार आरोपियों को गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।

Leave a comment