वैशाली जिला विधिज्ञ संघ के सचिव राकेश रौशन मुनचुन और शिवकान्त बने अध्यक्ष

पटना : बिहार के वैशाली जिला विधिज्ञ संघ के चुनाव में अध्यक्ष पद पर शिवकान्त झा और सचिव पद पर राकेश रौशन मुनचुन निर्वाचित घोषित किये गये। इसके साथ ही कोषाध्यक्ष पद पर राकेश कुमार -6 ने जीत दर्ज की है। सुबह आठ बजकर मतगणना शुरू होते ही अधिवक्ताओं में रूझान जानने के  लिए बेचैनी बढ़ गयी। हर समर्थक अपने पसंदीदा उम्मीदवार की जीत सुनना चाह रहा था, लेकिन दिन के बारह बजे के बाद जीत की कहानी तय होने लगी और जीतने वाले प्रत्याशियों के समर्थकों के चेहरे पर मुस्कान छाने लगी। अध्यक्ष पद के चुनाव में 28 चक्र की गिनती के बाद शिवकान्त झा ने अपने निकटत्तम प्रतिद्वंदि शंभु नाथ गुप्ता को 78 मतों से पराजित किया। श्री झा को 544 मत मिले तो श्री गुप्ता को 311 मत प्राप्त हुए। तीसरे स्थान पर प्रफुल्ल भूषण प्रसाद मोहन रहे जिन्हें 223 और चौथे स्थान पर नन्द किशोर झा रहे जिन्हें 143 मत मिले। इसी प्रकार सचिव पद के चुनाव में राकेश रौशन उर्फ मुनचुन ने भारी मतों से जीत दर्ज की। उन्होंने अपने निकटत्तम प्रतिद्वंदी मुकुल कुमार राजू को 351 मतों से पराजित किया। मुनचुन को 599 मत मिले जबकि श्री राजू को 248 मत मिले। जबकि तीसरे स्थान पर कुमार राजेशम, चौथे स्थान पर कुमारी संगीता रहीं। इसी प्रकार कोषाध्यक्ष पद पर राकेश कुमार छह ने 196 मतों से जीत दर्ज की। राकेश को 529 मत मिले जबकि उनकी निकटत्तम प्रतिद्वंदी नीरू कुमारी को 333 मत मिले। इसी प्रकार तीसरे स्थान पर पशुपति कुमार पारस रहे और चौथे स्थान पर चन्द्र मोहन सिंह आये।

 

अधिवक्ताओं ने जम कर मतदान किया। सुबह से ही अधिवक्ता मतदान करने लगे। न्यायालय आकर उन्होंने मताधिकार का प्रयोग किया। मतदान सुबह आठ बजकर 30 मिनट पर शुरू हुआ और शाम 5 बजकर तीस मिनट पर समाप्त हो गया। इस दौरान 1858 मतदाताओं में से 1359 अधिवक्ताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। चुनाव के दौरान मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्याम किशोर ठाकुर के साथ सहायक निर्वाचन पदाधिकारी संजीत कुमार और रामनाथ महतो देखरेख करते रहे। 21 पद के लिए होने वाले चुनाव में 61 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। जिसमें अध्यक्ष पद के लिए 5, उपाध्यक्ष के लिए 4, सचिव के लिए 7, संयुक्त सचिव के लिए 9, सहायक सचिव के लिए 7, कोषाध्यक्ष और अंकेक्षक पद के लिए 4-4, कार्यकारिणी सदस्य के लिए 16 और निगरानी सदस्य पद के लिए 5 प्रत्याशियों का भाग्य मतपेटी में बंद हो चुका है। कल मतगणना होगी।

मतदान के लिए 9 मतदान केन्द्र बनाये गये थे। जिनमें जिला विधिज्ञ संघ भवन के निचले तल पर तीन और उपरी तल पर छह केन्द्र थे। निचले तल पर वरीय और बुजुर्ग अधिवक्ताओं  के लिए व्यवस्था की गयी थी जबकि उपरी तल पर अन्य केन्द्र थे। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर तीन मतदान कर्मी उपस्थित थे। चुनाव को निष्पक्ष और बाधारहित कराने के लिए पुलिस बल की भी तैनाती की गयी थी। मतदान के लिए कोविड उन्नीस के नियमों के तहत मास्क लगाकर आना अनिवार्य था। चुनाव में सचिव पद के उम्मीदवार राकेश रौशन उर्फ मुनचुन ने कहा कि दूसरों की समस्या का समाधान अधिवक्ता हर रोज कर रहे हैं लेकिन उनकी अपनी भी कुछ समस्याएं होती हैं जिसे देखने के लिए संघ है। जिसके माध्यम से वकीलों की समस्याओं का निपटारा किया जाता है। कोषाध्यक्ष पद के उम्मीदवार राकेश कुमार ने बताया कि अधिवक्ताओं के हितों की रक्षा के लिए संघ की ओर से राशि की व्यवस्था की जाती है। जिसकी देखरेख की जिम्मेदारी कोषाध्यक्ष की होती है।

Leave a comment