हिमाचल में कई क्षेत्रों में न्यूनतम तापमान माइनस में पहुंचा

नई दिल्ली : हिमाचल प्रदेश में बारिश हो रही है और बर्फ गिर रही है। प्रदेश के शिमला, किन्नौर,  लाहौल-स्पीति, कुल्लू, सिरमौर और चंबा में भारी बर्फबारी हुई है। इससे जनजीवन पर काफी प्रभाव पड़ा है। कई सड़के बंद हो गयी हैं। जिससे यातायात व्यवस्था चरमरा गयी है। प्रदेश की लगभग 6 एस.एच. समेत 250 अन्य सड़कों पर चलना मुश्किल हो गया है। शिमला के ऊपरी क्षेत्र का मुख्य और सम्पर्क सड़क बंद हो गया है जबकि डल्हौजी, कुल्लू, लाहौल-स्पीति और किन्नौर के कई क्षेत्र अपने जिला मुख्यालय से कट गये हैं।  राज्य के लोक निर्माण विभाग ने बताया है कि लगभग 120 मार्ग केवल शिमला क्षेत्र में बंद हो गयी हैं, ज बकि शिमला के रामपुर क्षेत्र में 85 और रोहड़ू में 56 सड़कें बर्फबारी से प्रभावित हुई हैं। विभाग ने कहा है कि यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए 245  से अधिक मशीनों को लगाया गया है। अब तक लगभग 10 करोड़ रूपये से अधिक की क्षति का अनुमान लगाया गया है।

पूरे प्रदेश में कई वाहन  भारी बर्फबारी जहां-तहां फंसे हुए हैं।  जिनमें राज्य सरकार की एचआरटीसी बसें भी हैं। मौसम विभाग ने प्रदेश में 16 दिसम्बर तक मौसम के खराब रहने का आशंका जतायी है।

पिछले 24 घंटों में कोठी में सबसे अधिक बर्फबारी हुई है। लगभग 75 सेंटीमीटर बर्फ यहां गिरी है। इसके साथ ही खदराला में 75 सेंटीमीटर, कल्पा में 23  सेंटीमीटर, केलंग में 13  सेंटीमीटर, मनाली और छतराड़ी में शुक्रवार शाम तक 12 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई है।

इसके साथ ही कई स्थानों पर न्यूनतम तापमान माइनस में चला गया है। जिसमें केलंग में लगभग साढ़े तीन डिग्री सेल्सियस है। कुफरी, मनाली, डलहौजी, कल्पा में तापमान माइनस में पहुंच गया है।  

Leave a comment