होमियोपैथी चिकित्सा पद्धति कोरोना महामारी में है कारगर

पटना : कोरोना महामारी से लोगों में दहशत है, लेकिन होमियोपैथी इस पर पूरी तरह से नियंत्रण कर सकता है। बिहार के वैशाली जिले के हाजीपुर शहर में स्थित सुरेश चन्द्र वर्मा होम्योपैथी क्लीनिक के वरीय चिकित्सक डॉक्टर प्रभात किरण वर्मा ने बताया कि इस विधा में कोरोना को ठीक करने की दवा उपलब्ध है। जिससे मरीज आसानी से स्वस्थ हो सकते हैं। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि उनकी क्लीनिक से अब तक कोरोना के दस मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। श्री वर्मा का कहना है कि यह पैथी मरीज को पूरी तरह से ठीक करने की शक्ति रखता है। डॉक्टर ने कहा कि दिल्ली के एक समाचार चैनल में कार्य कर रहे पत्रकार सुमित कुमार को इस रोग ने जकड़ा था लेकिन उन्होंने तत्काल उनसे वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से सम्पर्क किया। जिसके बाद दवा दी गयी। अब पत्रकार पूरी तरह स्वस्थ हैं। साथ अपना कार्य भी कर रहे हैं। श्री वर्मा ने कहा कि होमियोपैथी की ओर लोग जा नहीं रहे हैं और न सरकार इस ओर जाने की सलाह दे रही है। जिससे समस्या बनी हुई है। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि यह बीमारी लाइलाज नहीं है लेकिन समय प्रबंधन और दवा का सही प्रयोग मृतकों की संख्या को रोक सकता है। डॉक्टर ने कहा कि भारत सरकार के निर्देश पर आयुष मंत्रालय ने आगरा और देश के अन्य शहरों में होम्योपैथिक दवाओं का क्लिनिकल परीक्षण किया है जिसमें अभूतपूर्व सफलता मिली है।

Leave a comment